माँ दुर्गा के बीज मंत्र का गलत प्रयोग करना प्रियंका गांधी को भविष्य में घातक सिद्ध होगा -आचार्य मदन

       


Image result for प्रियंका दुर्गा मंत्र       


       प्रियंका गांधी द्वारा आधी रात को माँ दुर्गा के बीज मन्त्र के गलत ढ़ंग से प्रयोग करने से स्वयं के लिए घातक सिद्ध होगा, इसमें कोई संदेह नहीं है | अपनी प्रेस वार्ता में प्रियंका ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धर्म सिखाने का जो बयान दिया है वह निन्दनीय है | कृष्ण का उदाहरण लेकर प्रियंका ने कहा कि कृष्ण प्रेम सिखाते हैं, जबकि प्रियंका को यह स्मरण रखना चाहिए कि कृष्ण ने अर्जुन को कुरुक्षेत्र में अधर्मी जनों के विरुद्ध युद्ध का आदेश दिया था | योगी आदित्यनाथ देश द्रोही व राष्ट्र धर्म द्रोही घुसपैठियों और उनके समर्थक पर दंडात्मक कार्यवाही कर रहे हैं तो वह राजधर्म के अनुकूल ही है | 


      प्रियंका गाँधी यह भूल गई कि योगी आदित्यनाथ 'नाथ सम्प्रदाय' के सर्वोच्च धर्माधिकारी है, गुरु गोरखनाथ की योग परम्परा से है, उन्हें धर्म की नसीयत देना एक मुर्खतापूर्ण दुसाहस है | कांग्रेस अपनी कुटिल चालों से भगवा और हिन्दू संस्कृति को नष्टभ्रष्ट और अपमानित करने में प्रयास रत रहती है |  



    कांग्रेस का इतिहास रहा है कि हिन्दू धर्म गुरुओं और हिन्दू संगठनों को दबाने के लिए भगवा आतंकवाद का षड्यंत्र रचा गया | कांग्रेस के नेता दिग्विजय सिंह ने मालेगाँव बम धमाके और मुंबई अटैक को हिन्दू धर्माचार्यो से जोड़ा | जिसके चलते  स्वामी असीमानंद, कर्नल पुरोहित, मेजर उपाध्याय, साध्वी प्रज्ञा, शंकराचार्य स्वामी अमृतानंद जी महाराज जैसे अनेक संतों व राष्ट्रवादी लोगों को कारवास का दंड भोगना पड़ा | राहुल गांधी स्वयं हिन्दू आतंकवाद का भ्रम फैला कर मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति और ईसाई साम्राज्य वाद की जड़े भारत में फैलाने के कुचक्र में लगी हुई थी | 


 किन्तु हिन्दू जनभावना ने राम मंदिर और भगवा को सर्वोपरि मानते हुए हिन्दू वादी पार्टी को वोट दिया | हिन्दू के वोट बैंक को मजबूत देखते हुए राहुल गाँधी जनेऊ धारण करने लगे, मंदिर-मंदिर के चक्कर लगाने लगे | प्रियंका गाँधी भी बनारस लोक सभा चुनाव 19 में काशी विश्वनाथ में भगवा धारण कर जलाभिषेक किया | हिन्दू को संगठित देखकर कांग्रेस का हिन्दूकरण होने लग रहा है, किन्तु वास्तव में कांग्रेस का इतिहास और वर्तमान गांधी परिवार इटालियन माँ सोनिया की छत्र छाया में पादिरियों के ही प्रभाव में हैं | राजीव गांधी के पिता फिरोज खान थे, वे हिन्दू नहीं थे, माँ इंदिरा से अवश्य कुछ हिन्दू संस्कार ग्रहण किये होंगे किन्तु विदेशी महिला से विवाह के उपरान्त उनकी संतानों ने विदेशी ईसाई धर्म के ही संस्कार लिए | अब जनेऊ दिखाना और गोत्र बताने की आवश्यकता के पीछे हिन्दू वोट बैंक है | 


   अगर ये हिन्दू होते तो इन्हें घूम-घूमकर अपना गोत्र बताने की आवश्यकता नहीं पड़ती | 


Popular posts from this blog

क्या आपकी जन्म कुंडली में है अंगारक योग ?  अशुभ अंगारक दोष से हो सकती है जेल !!

चंद्रमा जन्म कुंडली में नीच या पाप प्रभाव में हो तो ये करें उपाय

श्री दुर्गा सप्तशती के 6 विलक्षण मंत्र, करेंगे हर संकट का अंत