सावरकर टाइम्स के संस्थापक श्री जंग बहादुर क्षत्रिय का निधन- हिन्दू महासभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य रमेश मिश्र जी ने शोक व्यक्त किया

Image result for जंग बहादुर क्षत्रिय


    
जालंधर | 3 जनवरी 20 | आज सुबह चार बजे श्री जंग बहादुर क्षत्रिय जी का उनके आवास में निधन हो गया | क्षत्रिय जी 85 वर्ष की आयु के थे | पंजाब हिन्दू महासभा के सक्रिय नेता के रूप में जाने जाते रहे | इनके पिता जी श्री चमन लाल क्षत्रिय भी हिन्दू महासभा के वरिष्ठ नेता रहे | श्री चमन लाल जी देवता स्वरुप भाई परमानन्द के निकट सहयोगी रहे | श्री जंग बहादुर बाल्यकाल से ही हिन्दू महासभा के विचारों से प्रभावित रहे थे | हिन्दू सभा के अनेक आन्दोलन में इनकी मुख्य भूमिका रही | 
   सावरकर टाइम्स के संस्थापक सम्पादक के रूप में भारत ही नहीं विदेशों में भी क्षत्रिय जी का बहुत सम्मान था | वे सदैव ही हिन्दू , हिंदी, हिन्दू राष्ट्र के सिद्धांतों को ही प्रचारित करते रहे | 
   


   अखिल भारत हिन्दू महासभा के पूर्व अध्यक्ष व पञ्च गौड़ पीठाधीश्वर आचार्य रमेश चन्द्र मिश्र जी ने क्षत्रिय जी को कलम का वीर हिन्दू योद्धा बताया और कहा कि इनके निधन से हिन्दू महासभा को अपूरणीय क्षति हुई है |
श्री चमन लाल जी के निकट सहयोगी व सावरकर टाइम्स के प्रबंध सम्पादक श्री रामनाथ लूथरा ने क्षत्रिय जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया | 
    विश्व हिन्दू पीठ के अध्यक्ष आचार्य मदन ने कहा कि जंग बहादुर क्षत्रिय जी  हिन्दू राष्ट्र के अदम्य प्रकाश पुंज थे, उन्होंने अभाव व आलोचनाओं की परवाह न करते हुए हिन्दू महासभा के संगठन के लिए अपना जीवन स्वाहा कर दिया |  


      ज्ञात हो कि अभी कुछ समय पूर्व पंजाब में पाकिस्तानी व अफगानी घुसपैठ को लेकर श्री क्षत्रिय ने पंजाब के राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर अवगत कराया था | 


श्री जंग बहादुर क्षत्रिय ने राज्यपाल वी पी सिंह बड्नोर के नाम लिखे एक पत्र में कहा था कि


     "पंजाब में पाक, बांग्लादेश व अफगान के 25 लाख घुसपैठिए अवैध रूप से रह रहे हैं जोकि प्रत्येक शुक्रवार की नमाज सडक़ों पर एकत्रित होकर पढ़ते हैं, जिससे ट्रैफिक व स्थानीय लोगों को व दुकानदारों को अति परेशानी होती है। इस प्रकार जनता में एक दहशत का वातावरण बना हुआ है ये लोग मूल रूप से यहां के निवासी नहीं है, बल्कि सभी घुसपैठिए हैं। इन घुसपैठिए को सडक़ों पर नमाज पढऩे से रोकें ताकि पंजाब में शांति का माहौल कायम रह सके।"


    उन्होंने कहा कि वह इसकी जानकारी इस पत्र के माध्यम से दे रहे हैं। यदि आपने इस संदर्भ में एक्शन नहीं लिया तो भविष्य में तमाम घटना की जिम्मेदारी आपकी होगी। मैंने पंजाब में अनेक जिलों का दौरा किया है जो जानकारी प्राप्त होकर आई है वह मैं आपको दे रहा हूं।


Popular posts from this blog

क्या आपकी जन्म कुंडली में है अंगारक योग ?  अशुभ अंगारक दोष से हो सकती है जेल !!

चंद्रमा जन्म कुंडली में नीच या पाप प्रभाव में हो तो ये करें उपाय

श्री दुर्गा सप्तशती के 6 विलक्षण मंत्र, करेंगे हर संकट का अंत