पीएम मोदी और राहुल गांधी के बीच अब लाइफस्टाइल जंग शुरू, वीडियो बनी प्रचार अभियान का हिस्सा


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की लाइफ स्टाइल लोकसभा चुनाव के प्रचार अभियान का हिस्सा बन गई है। कांग्रेस आईटी सेल के लोगों की माने तो राहुल गांधी द्वारा शेयर किए जा रहे वीडियो खूब देखे जा रहे हैं। यह वीडियो राहुल गांधी की अनुमति से शेयर हो रहे हैं। कांग्रेस ने यह नया प्रयोग शुरू किया है और पिछेले सप्ताह से इसकी संख्या बढ़ी है। बताते हैं ऐसा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रचार अभियान की काट के तौर पर हो रहा है।


क्या है वीडियो में


  1. राहुल गांधी हेलीकाप्टर में बैठकर समोसा खा रहे हैं। यह प्रचार अभियान में संक्षिप्त नाश्ता का वीडियो है। वह अपने सहयोगी को समोसा पकड़ा रहे हैं। समोसा उ.प्र. का सबसे पापुलर नाश्ता है। पकौड़ा से ज्यादा इसने मार्केट शेयर ले रखा है। राहुल गांधी बिल्कुल सहज भाव में हैं और अपने सहयोगी को समोसा के बारे में बता रहे हैं।
     

  2. राहुल गांधी एक वीडियो में हेलीकाप्टर के पायलट से चैटिंग कर रहे हैं। उनसे सहज भाव में कुछ जानने की कोशिश कर रहे हैं। जैसे एक जिज्ञासु सहज स्वभाव का उदार व्यक्ति मित्रवत व्यवहार में कुछ जानना चाहता हो। इसके बाद राहुल गांधी हेलीकाप्टर से नीजे उतरते हैं और घास-पूस वाले रास्ते पर आगे बढ़ रहे हैं।
     

  3. तीसरा वीडियो प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ का है। राहुल गांधी एयरपोर्ट पर अपनी बहन के पास आते हैं। भाई-बहन का प्यार दिखाते हुए राहुल गांधी खड़े होते हैं। आम तौर पर राहुल और प्रियंका इस तरह से कभी वीडियो में सार्वजनिक तौर से सामने नहीं आए हैं।



इस वीडियो में राहुल गांधी दोनों हाथ पास लाकर हेलीकाप्टर के छोटा होने का संकेत करते हुए बताते हैं कि कैसे वह प्रचार अभियान में छोटे से हेलीकाप्टर से प्रचार कर रहे हैं और पार्टी ने उनकी बहन, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को बड़ा हेलीकाप्टर दिया है।  राहुल के इस तरीके पर प्रियंका बहन के प्यार का झेंप दिखाती हैं। मजे की बात यह है कि यह टीवी और अखबार में खबर का स्पेस पा रही है। कांग्रेस आईटी सेल के रोहन गुप्ता कहते हैं कि लोगों को अच्छा लग रहा है, तभी तो।

यह वीडियो क्यों?

कांग्रेस के नेता इस तरह के वीडियो पर कोई और टिप्पणी नहीं करते। पार्टी के एक पुराने महासचिव का कहना है कि इस तरह की चीजें प्रचार अभियान का हिस्सा नहीं होती थी। इनसे परहेज किया जाता था, लेकिन जब चुनाव मुद्दों पर न हों तो यही चलेगा। वह चुनाव में राष्ट्रवाद के मुद्दे पर कटाक्ष कर रहे हैं।

सूत्र का कहना है कि कैसा राष्ट्रवाद का दौर चल रहा है। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर सही हैं, अन्याय हुआ और आतंकवाद से लडऩे वाला पुलिस अफसर हेमंत करकरे किस रूप में पेश किया जा रहा है? एक राज्य का मुख्यमंत्री कह रहा है कि मोदी जी हिन्दुस्तान में बोलते हैं तो पाकिस्तान में इमरान कांपता है।

सूत्र का कहना है कि यह कोई चुनाव लडऩे के मुद्दे हैं। पांच साल की लोकतंात्रिक सरकार इन मुद्दों पर चुनाव लड़ रही है? प्रधानमंत्री अपने निजी जीवन को प्रचारित कर रहे हैं? मेरे हिसाब से यह लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है। सूत्र का कहना है कि मैं यह नहीं कांग्रेस ही बहुत पाक-साफ है, लेकिन जिसकी जिम्मेदारी ज्यादा है, पहले सवाल तो उन पर ही उठेगा।

Popular posts from this blog

क्या आपकी जन्म कुंडली में है अंगारक योग ?  अशुभ अंगारक दोष से हो सकती है जेल !!

चंद्रमा जन्म कुंडली में नीच या पाप प्रभाव में हो तो ये करें उपाय

श्री दुर्गा सप्तशती के 6 विलक्षण मंत्र, करेंगे हर संकट का अंत